सीसीई पद्धति प्रयोग की सफलता से CBSE बोर्ड उत्साहित और 12वीं में भी इसे लागू करने की योजना



12वीं में भी सीसीई पद्धति !

लखनऊ, 3 जून 
दसवीं में मिले बेहतर परिणाम के बाद सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) ने बारहवीं में भी कान्टिन्यूअस एंड काम्पि्रहेंसिव इवैल्युएशन (सीसीई) शैक्षिक पद्धति लागू करने की योजना बनाई है। 
इसके लिए बोर्ड स्तर पर चर्चा चल रही है और जल्द ही इसके लागू होने की उम्मीद है। वर्ष में एक बार सालाना परीक्षा कराने की जगह बोर्ड ने सीसीई पद्धति के तहत निश्चित अंतराल पर विद्यार्थियों के मूल्यांकन की योजना बनाई। इस वर्ष दसवीं में इसे प्रयोग के तौर पर लागू किया गया। प्रयोग की सफलता को देखकर बोर्ड खासा उत्साहित है और बारहवीं में भी इसे लागू करना चाहता है। सीसीई पद्धति के तहत छात्रों का सतत मूल्यांकन किया जाता है। इसके तहत वर्ष में चार मौखिक और दो लिखित परीक्षाओं का प्रावधान है। इन परीक्षाओं में अर्जित अंकों के आधार पर ही विद्यार्थियों का वार्षिक परिणाम तैयार किया जाता है। वर्ष भर मूल्यांकन पद्धति लागू होने से विद्यार्थियों पर भी पढ़ाई का बोझ हावी नहीं होता। हर माह होने वाली परीक्षाओं से बोर्ड परीक्षा के लिए उनकी तैयारी बेहतर हो जाती। साथ ही इस पद्धति में विद्यार्थियों के व्यक्तित्व विकास पर जोर दिया जाता है। सीबीएसई के जिला समन्वयक डॉ.जावेद आलम बताते हैं कि दसवीं में सीसीई पद्धति लागू करने से विद्यार्थियों को बहुत फायदा हुआ है। किसी एक परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन न कर पाने पर विद्यार्थी के पास अगली बार अच्छा प्रदर्शन करने का मौका रहता है। यही सब सोचकर बोर्ड इस तरह का फैसला लेने पर विचार कर रहा है।


दैनिक जागरण (हिंदी अखबार)
for CBSEinfo Magazine
All the information furnished on www.cbseinfo.in should be treated as unofficial and informatory.
The students / visitors / users must  go through the concerned website(s) or source(s) for duly  and full (official) information.

Related Posts

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter